मासिक भविष्यफल -----मई 2009

  मेष राशि
 आपके लिए यह महीना एक ओर जहाँ अत्यन्त उत्साहवर्धक तथा लाभदायक परिस्थितियों से भरा रहेगा वहाँ दूसरी ओर कुछ असमर्थता और आर्थिक संकोच का भी सामना करना पड़ेगा। सरकार अथवा सरकारी कर्मचारियों की सहायता से किया गया आयोजन सफल रहेगा। काफी मेहनत के बाद भी नाममात्र का सुयश मिलेगा। यही स्थिति व्यवसाय और आजीविका के मामले में भी रहेगी। काफी संघर्ष और दौड़ भाग के बाद पैर जमाने की जगह मिल जाएगी। महीने के उत्तरार्ध में सूर्य गोचर के फलस्वरूप एकाएक ही परिश्रम और पुरूषार्थ जनित कार्य सिद्ध होने लगेंगे । अतीत में किए गए कार्यो का कोई हर्षवर्धक समाचार प्राप्त होगा । उत्सव समारोह और मंगल कार्यो में आवाजाही बढ़ेगी। नए या पुराने मित्रों से परिचय व प्रगाढ़ता कायम होगी।
शुभ तारीखें:-4,15,16 24,25,26,29
अशुभ तारीखें:- 8,12,17,20,21,27
उपाय:- भगवान गणपति को मंगलवार के दिन लडडू का भोग लगाऎं
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

वृ्ष राशि
  इस राशी के व्यक्तियों को इस माह कुछेक कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। मानसिक अशान्ति बनी रहेगी। घर परिवार में शांति रखने के लिए सावधानी पूवर्क रहें। कार्यक्षेत्र में मन लगाकर काम करें, विशेष तौर पर नौकरीपेशा व्यक्ति अनावश्यक झगड़े व बहस से बचें अन्यथा नौकरी बदलने की संभावना निर्मित हो रही है। यह माह विशेष सावधानी से गुजारें। धन हानि, सुख शांति में कमी हो सकती है। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। व्यसनों से दूर रहें, आर्थिक तंगी आ सकती है। माह के अन्त में परिस्थितियाँ आपके अनुकूल बनेंगी। आपके रूके हुये कार्य बनेगें। धर्म कार्यों में रूचि, धन लाभ आदि के लिये अवसर बनेगें।
शुभ तारीखें:- 1,5,10,11,23,24,29
अशुभ तारीखें:- 3,12,13,16,18,19,26
उपाय:- शनि के मंत्र का जाप करें- ऊँ शं शनैश्चराय नम:। प्रत्येक बृहस्पतिवार पीली वस्तुओं का दान करें।
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
मिथुन राशि
 यह महीना कारोबार में वृद्धि के लिए विशेष लाभकारी रहेगी। नौकरी पेशा लोगो

को भी छिटपुट लाभ के अवसर मिलेंगे। किसी नए माध्यम से धन मिलने की आशा रहेगी। महीने के उत्तरार्ध में एक साथ कई कामों को आरंभ करने की उतावली रहेगी। यह भी सम्भव है कि लाभ की लालसा में कुछ हानिकारक कार्य भी आपके द्वारा हो सकते हैं। थोडा संभलकर चलने की आवश्यकता है। मास का अंतिम सप्ताह मन में शांति प्रदान करेगा क्योंकि इसी अवधि में आपके व्यवहार सम्बन्धी समस्याओं में कमी आएगी और आप अपनी कार्य दक्षता के आधार पर किसी बड़ी समस्या हो हल कर लेंगे। पिछले मास की तरह ही  इस महीने भी भागदौड लगी रहेगी तथा यात्राएं अनावश्यक व्यय का कारण बनती रहेंगी ।
शुभ तारीखें:- 2 , 8 , 18 , 24 ,27,28
अशुभ तारीखें:- 3,7,19,21,26,31
उपाय:- प्रत्येक सोमवार दूध अथवा चावल का यथासामर्थ्य दान करें.
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

कर्क राशि
  इस महीने के पूर्वार्द्ध में कोई पुराना चला आ रहा विवाद या मामला निपटने का योग है। यात्रा व अच्छे लेन देन के भी योग हैं। चली आ रही पारिवारिक समस्याओं का निराकरण हो जायेगा। पति-पत्नी में आपसी मेल जोल व सामंजस्य बढ़ेगा। नौकरी व आर्थिक निवेश के मामलो में भी आपको सफलता मिलेगी। नए लोगो से सम्पर्क बनेगें। कोर्ट केस आदि के मामलो में आपको लाभ प्राप्त हो जायेगा। परीक्षा प्रतियोगिता में सफलता मिलेगी। नया निवेश,खरीद फरोख्त बिक्री जैसी चीजे आगे चल कर लाभ देंगी। मास के उत्तरार्द्ध भाग में  रुकावटो के बावजूद धन लाभ के अवसर मिलते रहेंगे। किसी उच्चाधिकारी से विरोध के कारण मानसिक तनाव का सामाना करना पड़ेगा। बनते कार्यो में रुकावट होगी। शरीर में आलस्य,थकान व कमजोरी महसूस होने लगेगी।किसी निकटतम व्यक्ति की ओर से आपके साथ धोखा/विश्वासघात होने का कुयोग है। हाथ में आता आता धन रुक जायेगा।कोई पुराना शत्रु हानि पहुंचाने  का भरकस प्रयास करेगा।परन्तु मास के अन्तिम भाग में मेहनत व परिश्रम का पूरा-पूरा लाभ मिलने लगेगा। अकस्मात व अनायास धन प्राप्ति की सम्भावनायें प्रबल हैं। रोजी रोजगार के उचित अवसर प्राप्त होंगे। प्रेम प्रसंगो में सफलता मिलेगी। परिवरिक सुख-साधनों में वृद्धि होगी। विद्यार्थीयों को परीक्षा मे सफलता प्राप्त होगी।
शुभ तारीखें:-9,16,22 से 27 तथा 30
अशुभ तारीखें :- 2,6,8,13,18,19,20 
उपाय :- यथासंभव प्रत्येक सप्ताह मंगलवार के दिन किसी भिखारी को भोजन कराऎं 
----------------------------------------------------------------------------------------------
सिंह राशि 
 मास के प्रथम सप्ताह में अचानक व्यय बढ़ जाएगा और बिना सोचे हुए या बिना योजना बनाए खर्चे सिर पर आ खडे होंगे। इस समय सुख-सुविधा की कुछ वस्तुओं की खरीद आप कर सकते हैं। वाहन सुविधा बढ़ेगी। माता का मन प्रसन्न रहेगा बल्कि माता को लाभ हो सकती है। छोटे भाई-बहिन कोई अच्छा, बड़ा फैसला ले सकते हैं, जो कि आगामी भविष्य हेतु बहुत लाभकारी रहेगा।
मई मध्य के बाद समय अचानक सुधर जाता है जब जीवन साथी के नाम से किए गए व्यवसायों/निवेश में अचानक आर्थिक लाभ बढ़ता है। यह हो सकता है कि कुछ स्वास्थ्य हानि भी होती रहे। इस समय आर्थिक लाभ के लिए किए जा रहे प्रयास सफल होंगे क्योंकि एक तरफ खर्चे चल रहे होंगे, दूसरी तरफ आय बढ़ रही होगी। जमीन-जायदाद के क्रय- विक्रय की बातें चलने लगेंगी , आपको कोई भूखण्ड अच्छा लाभ दिला सकता है। संतान के लिए यह शुभ समय है और उनके कार्य पद्धति में सुधार आएगा। संतान की परीक्षा का परिणाम या व्यावसायिक निष्पादन पहले से अच्छा रहेगा। 
शुभ तारीखें :- 6,9,17,19,20,23,25,30,31
अशुभ तारीखें :- 3,4,7,11,12,28
उपाए :- मास प्रयन्त घर में अपने इष्टदेव के सम्मुख नित्य प्रात: शुद्ध घी का दीपक जलाएं 
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
कन्या राशि 
 मास के प्रथम सप्ताह में बहुत अच्छी शुरुआत होगी जब अचानक भाग्य वृद्धि होनी शुरू होगी और धन साधन शुरू से ही होने लगेगा। इस समय आजीविका क्षेत्रों में कुछ विशेष प्रयास कर सकते हैं और संभवतः अच्छा परिणाम ही आएगा। इस समय पिता और माता के कष्ट बढ़ेंगे जिनमें आर्थिक से भी अधिक स्वास्थ्य संबंधी कष्ट होंगे। अन्यथा इस समय आपकी प्रतिष्ठा अत्यधिक बढ़ेगी । इस समय किसी स्त्री की कृपा दृष्टि आपके भाग्य निर्माण में सहायक सिद्ध होगी। शुक्र देव आपके लिए अत्यंत अनुकूल हैं जो कि आप में जीवनी शक्ति का संचार करेंगे, भूमि, भवन, सम्बन्धी मामलों का निस्तारण करेंगे। संतान को विशेष वृद्धि देंगे और आपके जीवन में कोई ऐसी बात आएगी जिसके कारण आगामी वर्षों के लिए भविष्य सुरक्षित हो जाएगा। इस समय राहु जो कि आपकी राशि से पंचम भाव में भ्रमण कर रहे हैं। अतैव कुटिल विचारों का परित्याग करना ही आपके लिए श्रेयष्कर रहेगा, अन्यथा मति भ्रम का शिकार होना पड जाएगा। इस समय स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतें क्योंकि साधारण शारीरिक कष्टों से दो-तीन दिन खराब हो सकते हैं। 
शुभ तारीखें :- 2,7,9,10,12,15,20,21,23
अशुभ तारीखें :- 6,8,28,29
उपाए :- ऊँ शं शुक्राय नम: मंत्र का जाप करें तथा नित्य सुगंधित इत्र/तेल इत्यादि का इच्छानुसार प्रयोग करें
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
तुला राशि
 मास के पूर्वार्द्ध में मानसिक तनाव एवं उलझने बढेंगी। अत्याधिक भागदौड़ के बाद भी आय कम व खर्च अधिक रहेंगे। बनते कार्यो में रुकावट होगी। गृह कलेश व स्थान परिवर्तन से मन अशांत रहेगा। कलह विवाद व लड़ाई झगडा होने की सम्भावना है। विद्यार्थी अपनी मेहनत से सफल होंगे। उत्तरार्द्ध भाग में कार्य स्थिति में सुधार के योग हैं। निर्वाह योग्य आय के स्रोत बनते रहेंगे। शुभ समाचार की प्राप्ति सम्भव है। भाग्योन्नति के उचित अवसर प्राप्त होंगे। विपरीत लिंगी द्वारा धन लाभ की सम्भावना है। प्रयत्न से मुशकिल समस्याओं का हल मिल जायेगा। धन आवक के साधनो में वृ्द्धि होगी। परन्तु धन का लेन देन करते समय सावधानी की आवश्यकता है। मित्रो व सहयोगियों से आशातीत सहयोग की प्राप्ति होगी।  किसी परीक्षा/प्रतियोगिता का परिणाम आपके पक्ष में आएगा।संतान पक्ष की ओर से कोई शुभ समाचार प्राप्त होगा। आपका कोई पुराना शासकीय कार्य किसी प्रभावशाली व्यक्ति की मध्यस्था से हल हो जाएगा। नया व्यापारिक अनुबन्ध भी हो सकता है। निर्वाहयोग्य धन का आगमन होता रहेगा।
शुभ तारीखें :- 4,5,11,14,17,21,26,27
अशुभ तारीखें:- 8,13,18,19,22,30
उपाए :- अपने इष्टदेव के चरणों में नित्य एक लाल रंग का पुष्प चढावें
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
वृ्श्चिक राशि 
आप कुछ ऐसा सोच रहे हैं कि आपके आस-पास के लोग बहुत मजबूत होते जा रहे हैं, इस कारण आप असंतुष्ट हैं  आप अपने नजरिए के प्रति अड़ियल न बनें अपितु इसे बदलने का प्रयास करें ताकि वर्तमान  परिस्थितियों के चक्रव्यूह से निकल  सकें मास के प्रथम सप्ताह में ग्रह स्थिति अत्यन्त अनुकूल है और इस प्रकार की योगकारक स्थिति जन्म पत्रिका की सामर्थ्य को अचानक बहुत उठा देती है।इस समय सर्वत्र वातावरण अनुकूल रहेगा।दैनिक आय बढ़ेगी, लोगों से सामजस्य बिठाने में मदद मिलेगी और उच्च कोटि के जन सम्पर्कों के कारण आर्थिक लाभ की मात्रा बढ़ेगी। यदि आप नौकरी कर रहे हैं तो यह सर्वश्रेष्ठ समय चल रहा है परन्तु आत्मशाला की प्रवृत्ति के कारण आप इसके सुफलों को कम कर लेंगे। इस मास में आपको केवल यह करना है कि कम बोलना है और स्वयं की पैरवी नहीं करना है। इस समय जो गणित चल रही है, उसमें आपको दीर्घ काल तक लाभ बने रहने की संभावना बन रही है परन्तु वाणी के दोष के कारण लाभ, हानि में नहीं बदल जाए, इसका ध्यान आपको रखना होगा। मास का द्वितीयार्द्ध आपके प्रयासों में वृ्द्धि करने वाला समय है।
शुभ तारीखें :- 1,2,3,5,7,15,22 से 25
अशुभ तारीखें :- 10,17,21,28,30
उपाए :- नित्य ऊँ विश्वेभ्यो देवेभ्यो नम: मंत्र का 21 बार उच्चारण करके ही घर से प्रस्थान करें
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
धनु राशि 
आपका सोच विचार ऐसा बनता चला जा रहा है कि आप अपनी सेहत पर अनावश्यक दबाव बना रहे हैं "संयमशील व्यक्ति ही जीवन में कुछ प्राप्ति कर सकता है" , इस वाक्य को मूल मंत्र मानकर जीवन पथ पर बढते चलिए आपके प्रयास सही दिशा में हैं, फिर आप चिंता क्यों कर रहे हैं  मास के पूर्वार्द्ध भाग में आशाओ के अनुरुप सफलता प्राप्त न होने से मानसिक तनाव का सामना रहेगा। किसी को उधार न दें अन्यथा वापिस लेने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। उलझने व समस्याएं उभरती रहेंगी। क्रोध के कारण विघ्न उत्पन्न होंगे। कलह विवाद व लड़ाई झगडा होने के आसार हैं। जो काम आपको मिला था वह लापरवाही के कारण किसी दूसरे को मिल सकता है। आर्थिक सफलताओं के बावजूद भी संतुष्ट नही रहेंगे। कोई ऐसा काम उजागर हो जायेगा जिसे आप गुप्त रखना चाहते थे।  उत्तरार्द्ध भाग में मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होने के योग हैं। रोजी रोजगार के उचित अवसर प्राप्त होंगे। मेहनत व परिश्रम से लाभ में वृद्धि होगी।  शुभ कार्यो पर धन खर्च होगा। विदेशी कार्यो में प्रगति के योग हैं। लाभ व पदोन्नति के अवसर प्राप्त होंगे। निवेश शेयर निवेश आदि गतिविधियो से निश्चित लाभ होगा। परन्तु अपने अनुचित कार्यो को फिलहाल स्थगित कर दे। विद्यार्थी अपनी मेहनत से परीक्षा में अनुकूल परिणाम प्राप्त कर लेंगे। खरीद फरोख्त व निवेश के काम में लाभ निश्नति होगा।  
शुभ तारीखें :- 1,5,11,14,20,23,29
अशुभ तारीखें :- 8,14,18,24,27,28,31
उपाए :- अष्टमी के दिन देवी भगवती दुर्गा जी के मंदिर में एक नारियल अर्पित करें
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

मकर राशि
मास के आरम्भ में आपको कठिन परिश्रम के उपरान्त निर्वाह योग्य धन की प्राप्ति होती रहेगी। व्यापार व्यवसाय यथावत चलता रहेगा। कार्य कुशलता व कार्य क्षमता में वृद्धि होगी। संतान की शिक्षा,सेहत चिन्ता का कारण बन सकती है।  बनते हुए कार्यो में अचानक विघ्न उत्पन्न होंगे। नौकरी में कुछ परिवर्तन का विचार बन सकता है। किसी नजदीकी व्यक्ति से कलह,वाद विवाद व लड़ाई-झगड़े की पूरी सम्भावना है। नौकरीपेशा लोगों को अपने अधिकारी की नराजगी का सामना करना पड़ सकता  है। किन्तु महीने के उत्तरार्द्ध भाग में परिवारिक सुख शांति में वृद्धि होगी।  धन लाभ के अवसर मिलेंगे। नौकरी में तरक्की होगी। महत्वपूर्ण कार्यो में सफलता मिलेगी । व्यवसाय कारोबार में धन लाभ के योग बन रहे हैं । धन अर्जित करने की नई नई सम्भावनाएं बनेंगी। काम के बेहतर नतीजों से राहत अनुभव करेंगे। व्यापार व्यवसाय में बेहतरी के लिय कुछ महत्वपूर्ण व कठोर निर्णय लें सकते हैं जिससे आपके लाभ में वृद्धि होगी। 16 से 23 तारीख के मध्य शेयर मार्कीट,लाटरी अथवा जमीन-जयदाद संबंधी कार्यों में हानि की सम्भावना है------विशेष ॠप से ध्यान रखें। 
शुभ तारीखें :- 7,12,13,25,27,28,31
अशुभ तारीखें:- 3,8,16 से 23 तथा 29
उपाए :- माता-पिता के नित्य चरण स्पर्श करें. अपना पुराना वस्त्र किसी निर्धन व्यक्ति को दान करें
-----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

कुंभ राशि
मास के प्रथमार्ध में आपकी इच्छाकूल कार्य होंगे।  इस समय आपके किसी न किसी मार्ग से धन आएगा जो कि अनुमान से अधिक होगा। इस समय आप कई आध्यात्मिक उपायों पर भी कार्य करेंगे जिससे आपको लाभ होगा। जीवन साथी के स्वास्थ्य में इजाफा होगा परन्तु इस समय उच्चाटन के भाव होंगे तथा कुछ समय घोर अशांति में बीतेगा। मास के उत्तरार्ध में सक्रान्ती के पश्चात आपको अधिक सावधान रहने की जरूरत है और लोगों के साथ अधिक तालमेल बैठाने की जरूरत है। इस समय अचानक कलहपूर्ण वातावरण निर्मित होने लगेगा और कलह की पराकाष्ठा कोई काम नहीं करने देगी।साथ ही यह स्वास्थ्य सम्बन्धी सामान्य कष्टों का भी समय है, जिसे आप आसानी से झेल लेंगे। किसी भूमि या भवन से सामान्य आर्थिक लाभ संभावित हैं परन्तु आपको इस प्रतीक्षा में शांत नहीं बैठना चाहिए, क्योंकि आपकी राशि के लिए मंगल इस समय कठोर श्रम के पश्चात ही कुछ देने की स्थिति में है अतः न तो अधिक आरामपसन्द बनें और न ही श्रम में कोई कमी होने दें। इस समय संतान की तरफ से कुछ पीड़ा रहेगी बल्कि संतान भी किसी न किसी कारण से पीड़ित रहेगी। कुल मिलाकर आपके लिए यह मास मिश्रित फलदायक ही है जिससे कि आपको समय के दबाव में रहकर ही जीना होगा
शुभ तारीखें :- 5,10,15,18,21,24,29
अशुभ तारीखें:- 3,6,11,14,20,26,30
उपाए :- श्री नारायण कवच का नित्य पाठ करें तथा अगर आप मांसाहार का सेवन करते हैं तो  इस माह मांस/मदिरा के सेवन का परित्याग करना ही आपके लिए हितकारी रहेगा।
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
मीन राशि 
आपको एक बात समझनी होगी कि इस समय आपको जो व्यावसायिक असंतुष्टि है उसके चलते आपके व्यक्तिगत जीवन में कुछ हलचल सी बनी हुई है। आपके काम काज के क्षेत्र में जो तनाव है उसको घर लाने की चेष्टा न करें।व्यर्थ की चिन्ताओं का परित्याग कीजिए,क्योंकि आपके लिए यह मास शुभ प्रभावों को लेकर आ रहा है, जिसके प्रथमार्ध में जहाँ धन लाभ होगा वहीं उत्तरार्ध में व्यय करने वाली परिस्थितियाँ होंगी। अंतिम सप्ताह में ऐसे खर्च होंगे, जिन पर आपका नियंत्रण नहीं होगा। मास के मध्य भाग में जरूर कुछ परेशानी वाला वातावरण रहेगा तथा पत्नी व पिता के स्वास्थ्य की चिन्ता रहेगी। किन्तु बाकी सारा समय आपके लिए लाभकारी ही रहेगा। रोजी रोजगार के उचित अवसर प्राप्त होंगे। मेहनत व परिश्रम से लाभ में वृद्धि होगी।  शुभ कार्यो पर धन खर्च होगा। निवेश शेयर निवेश आदि गतिविधियो से आगे भविष्य में निश्चित रूप से भरपूर लाभ प्राप्ति का योग है।
शुभ तारीखें :- 2 से 7, 11,15,16,21,24,25,30,31
अशुभ तारीखें :- 10,18,19,27,29
उपाए :- बच्चों को प्रत्येक सप्ताह में किसी भी दिन सफेद मिठाई अवश्य खिलाएं तथा सोमवार के दिन अपने इष्टदेव के  चरणों में सफेद पुष्प चढावें।
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- 
(सूचना:- यहां दिए गए समस्त राशि प्रतीक चित्र बिना किसी अनुमति के अन्तरजाल से लिए गए हैं)