मासिक राशीफल अप्रैल 2009

मेष राशी- : इस माह आप किसी मांगलिक आयोजन की तैयारी में सक्रिय रहेंगे। महत्वपूर्ण योजनाओं की सार्थकता से मन में उत्साह का संचार होगा। 10 से 18 तारिखों के मध्य अनावश्यक व्यय पर नियंत्रण रखें। किसी पुराने परिचित से भेंट संभव। प्रणय संबंधों मे निकटता बढ़ेगी। 6,8,21,23,28 तारीखों को महत्वपूर्ण कार्यो में आर्थिक असामांजस्य की स्थिति से कठिनाईयाँ संभव। राजकीय मामलों में अवरोधों की आशंका है। शिक्षा-प्रतियोगिता की दिशा में चिन्ताएं मन पर प्रभावी होंगी।

वृष राशी- : भौतिक जगत से ताल-मेल बिठने में असमर्थ होंगे। किसी महत्वपूर्ण कार्य की सार्थकता के लिए परिश्रम तीव्र होगा। व्यवसायिक क्षेत्र में नए लाभ के आसार बनेंगे। शासनसत्ता का लाभ मिलेगा। तारीख 4 से 11 तक नैतिक-अनैतिक आदि के बारे में सोचने वाला मन भौतिक परिवेश ताल-मेल बिठाने में असमर्थ होगा। गुप्त शत्रुओं से सतर्क रहें। मास के उत्तरार्द्ध में रचनात्मक कार्यों से लोकप्रियता बढ़ेगी। अभिभावकों व श्रेष्ठजनों का सहयोग प्राप्त होगा।

मिथुन राशी- : गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें। मौसम में परिवर्तन से अस्वस्थता की आशंका है अत: सावधान रहें। सहकर्मियो से असहयोग की अनुभूति संभव। 15 से 19 तारीख तक क्रोध में वृ्द्धि होगी, अतैव वाणी पर नियंत्रण रखना अत्यावश्यक है । महत्वपूर्ण कार्यो मे आलस्य न करें। राजनैतिक क्षेत्र के व्यक्तियों को परिवर्तनों का सामना करना पड़ेगा। मास के अन्तिम भाग विशेषत: शुक्रवार को कार्य क्षेत्र में वर्चस्व बढ़ेगा। रचनात्मक क्रिया-कलापो में रुचि बढ़ेगी। नए सम्बन्धें द्वारा लाभ के आसार है। प्रिय व्यक्ति से भेंट से मन प्रसन्न होगा।

कर्क राशी- : परिवार में किसी की अस्वस्थता से मन चिन्तित होगा। महत्वपूर्ण क्षेत्रो में चल रहे प्रयत्न सार्थक होंगे। राजनैतिक सक्रीयता बढ़ेगी। शासन-सत्ता के व्यक्तियों से लाभ के अवसर प्राप्त होगा। तारीख 3,8,13,18 को हड़बड़ी में कोई कार्य न करें। अवयस्कता पूर्ण व्यवहार पर नियंत्रण करें। 6,15,20,22,24 तारीखों को परिजनों के स्नेह से सुखद अनुभूति होगी।पारिवारिक वातावरण सौहार्दपूर्ण रहेगा, लंबी दूरी के यात्रा की योजना बन सकती है। भौतिक सुख-साधन में व्यय संभव।

सिंह राशी- : जिम्मेदारियों की पूर्ति मे अर्थाभाव अवरोधक होगा। जीवन साथी के स्वास्थ के प्रति सचेत रहें। सामाजिक मान-मर्यादा मे वृद्धि होगी। 2,10,12,23,24,30 को महत्वपूर्ण दायित्व की सुव्यवस्थित ढंग से पूर्ति के लिए मन चिन्तित होगा। आलस्य का त्याग करें। 1,7,9,16,17,21 तारिखों में विद्यार्थियों की सफलताएं उत्साह में वृद्धि करेंगी। जीवनसाथी से संबंधित कोई समस्या हल होने से दाम्पत्य जीवन सुखद होगा।

कन्या राशी- : भावावेश में किये गये कार्य से कष्ट संभव। 8,14,16,26 तारीखों को परिजनों की बातो को दिल पर मत लें। व्यावसायिक व्यस्तता से निजी जरूरतों के प्रति समयाभाव आड़े आएगा। महीने के उत्तरार्द्ध में अच्छी अभिलाषाएं मन में जागृत होंगी। राजनैतिज्ञों से निकटता व राजनैतिक सक्रियता बढ़ेगी। शिक्षार्थियो को ग्रहों की अनुकूलता का लाभ प्राप्त होगा। भौतिक सुखो में वृद्धि होगी।घर में किसी मेहमान के आने से मन प्रसन्न रहेगा।

तुला राशी- : आलस्य महत्वपूर्ण लाभ से वंचित कर सकता है। संबंधों में छोटी-छोटी बातों का बुरा न मानें। रोजगार की स्थिति में सुधार व आर्थिक लाभ के आसार हैं। 8,13,19,20 तारीखों को स्वास्थय एवं शत्रुओं से सतर्क रहे। 11 तारीख के पश्चात यात्रा का अवसर प्राप्त होगा । राजनीतिज्ञों को उथलपुथल का सामना करना पड़ सकता है। 6,9,27,29 तारीखें पूर्णत: शुभ रहेंगी, कार्य क्षेत्र में अनुकूल स्थिति से मन प्रसन्न होगा।पारिवारिक एवं सामाजिक जीवन के निर्वहन संबंधी व्यस्तता रहेगी।कुल मिलाकर तुला राशी के जातकों के लिए यह मास अति भागदौड वाला सिद्ध होगा ।

वृश्चिक राशी- : नौकरी का वातावरण सुखद लगेगा। महीने के पूर्वार्द्ध में आकस्मिक किसी सुखद समाचार से मन प्रसन्न होगा। बहुत दिनों से अवरोधित महत्वपूर्ण कार्य हल होने के आसार बनेंगे। 19 से 25 तारीख तक समय थोडा चिन्ता देने वाला है ,छोटे-मोटे रोग अथवा चोट की आशंका है। अत: यात्रा में सावधानी बरतें। अपयश व लान्छन से बचें। किसी महत्वपूर्ण कार्य में अवरोध से मन चिन्तित होगा । अपनी जेब में एक लाल रंग का रूमाल रखें  तथा ॐ नारायणाय सुरसिंहासनाय नम: मंत्र का जाप करें।

धनु राशी- : विद्यार्थी एकाग्र कर शिक्षा पर ध्यान दें। नौकरी में व्यस्तता का समय होगा। नए अवसरों का लाभ उठाने मे सक्षम होंगे। 2,11,17,24 तारीखों को स्वास्थ्य में छोटी-मोटी परेशानियां संभव। 4 से 9 तथा 26 से 30 तारीखों के मध्य प्रयासरत क्षेत्रों में सफलता प्राप्त होगी। राजनीतिक व्यक्तियों के लिए अच्छा समय, उनके वर्चस्व में वृद्धि होगी। किसी नए व्यवसाय में पूंजी निवेश से पूर्व अनुभवी व्यक्तियों से सलाह लें।अन्यथा धन फंसने का पूर्ण योग है।

मकर राशी- : सरल स्वभाव द्वारा संबंधों में निकटता बढ़ेगी परंतु अत्यधिक भावनात्मक अपेक्षाएं संबंधों में कष्ट का भी अनुभव करायेंगी। आर्थिक सुदृढ़ता हेतु मन में नए-नए विचार उत्पन्न होंगे। माता के स्वास्थ के प्रति सर्तकता अपेक्षित है। मास के मध्य भाग में विशेषत: 13 से 20 तारीख तक संवेदनशील स्थिति में बचकाना स्वभाव कार्यक्षेत्र में छवि को कुप्रभावित करेगा। महत्वपूर्ण कार्य में आलस्य न करें। आवेश में कोई निर्णय न लें। 1,5,9,10,23,30 तारीखों को शिक्षा प्रतियोगिता की दिशा में प्रयत्न सार्थक होगा।

कुंभ राशी- : इस महीने पारिवारिक दायित्वों की पूर्ति में व्यस्तता रहेगी। गुणवत्ता एवं कार्य कुशलता के आगे विरोधी परास्त होंगे। जीवनसाथी के स्वास्थ के प्रति सतर्क रहें। पुरानी समस्याओं पर विजय प्राप्त करेंगे। माता के सहयोग से परिवार में आपका पक्ष मजबूत होगा। महीने के प्रथम भाग में मांगलिक क्रिया-कलापों मे रुचि बढ़ेगी। नये व्यवसाय में पैसा लगाने से पूर्व अनुभवी व्यक्तियों से सलाह लें। शासन-सत्ता में पकड़ मजबूत होगी। मास के अन्तिम भाग में किसी महत्वपूर्ण उद्देश्य से की गई यात्रा सफल होगी। चापलूस लोगों से निकटता हानिकर हो सकती है।

मीन राशी- : अपने मान-नर्यादा का ख्याल रखें। शिक्षा-प्रतियोगिता मे परिश्रम तीव्र होगा। 5 से 14 तारीख के मध्य मन पूर्णत: प्रसन्न रहेगा, योजनाओं को फलीभूत करने में सक्षम होंगे। नौकरी में लोकप्रियता बढ़ेगी। शासन सत्ता के लोगों द्वारा लाभ के अवसर प्राप्त होंगे। मित्र की मध्यस्थता से बिगड़े हुए संबंधों में सुधार संभव।किन्तु मास के अन्तिम भाग में थोडी चिन्ताएं हावी रहेंगी, 22,24,25,28,29 तारीखों को नौकरी में किसी सहकर्मी अथवा अधिकारी के व्यवहार से दिक्कतें संभव। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें,पेट अथवा पीठ संबंधी किसी रोग व्याधी का भय है।